Cervical Cancer 2024 : सर्वाइकल कैंसर जानिए कैसे होता हैं सर्वाइकल कैंसर, इलाज, बचाव

By | 3 February 2024
सर्वाइकल कैंसर Cervical cancer symtoms,treatment,causes

जैसे की आप सभी जानते हैं Poonam Panday की मौत का झूठ का कारण सर्वाइकल कैंसर था आइये जानिए कैसे होता हैं सर्वाइकल कैंसर(Cervical cancer), इलाज, बचाव कैसे किया जा सकता हैं। महिलाओं में होने वाला यह सबसे ज्यादा ख़तरनाक कैंसर होता हैं।

सर्वाइकल कैंसर (Cervical cancer) भी कैंसर जैसे कोशिकाओं के अनियंत्रण के कारण होता हैं। कैंसर को आम भाषा में समझे तो कैंसर में कोशिकाएं अनयंत्रित हो जाती हैं और जहाँ से कैंसर की शुरुआत होती हैं उसे उस कैंसर का नाम दिया जाता हैं जैसे स्तन में होने वाले को स्तन कैंसर ,

पूनम पण्डे की मौत नहीं हुई हैं सर्वाइकल कैंसर(Cervical cancer) के प्रति लोगो को जागरूक करने के लिए ये अफवा फैलाई थी।

Table of Contents

सर्वाइकल कैंसर (Cervical cancer) क्या होता हैं ?

जहा से कैंसर की शुरुआत होती हैं उसे उसी कैंसर के नाम से जाना जाता हैं जब कैंसर की शुरुआत गर्भाशय के निचले भाग यानि ग्रीवा से होती हैं उसे ग्रीवा कैंसर या सर्वाइकल कैंसर (Cervical cancer) करते हैं। हाल ही में एक्ट्रेस पूनम पांडे की मौत भी इसी ख़तरनाक कैंसर से हुई हैं। सर्वाइकल कैंसर (Cervical cancer) महिलाओं में होने वाली अज्ञानता के कारण भी होता हैं कियुकी यह सम्भोग करते समय एक पार्टनर से दूसरे पार्टनर तक फैलता हैं।

सर्वाइकल कैंसर (Cervical cancer) को बच्चेदानी के मुँह का कैंसर भी कहते हैं। सर्वाइकल कैंसर (Cervical cancer) बच्चादानी के टूयब के सबसे निचले स्थान पर घातक टूयमर के रूप में होता हैं। सर्वाइकल कैंसर (Cervical cancer) का होने का मुख्य काऱण ह्यूमन पैपिलोमा वायरस (HPV) संक्रमण से होता हैं

ह्यूमन पैपिलोमा वायरस (HPV) संक्रमण

ह्यूमन पैपिलोमा वायरस (HPV) की बात करें तो यह एक वायरस का समूह हैं यह 100 से ज्यादा प्रकार के होते हैं। 30 ह्यूमन पैपिलोमा वायरस (HPV) संक्रमण लैंगिक क्षेत्र को प्रभावित करते हैं जिससे कैंसर पैदा होता हैं। जिससे ह्यूमन पैपिलोमा वायरस (HPV) संक्रामक की घातक श्रेणी में रखा गया हैं। जिससे सर्वाइकल कैंसर (Cervical cancer) भी होता हैं। इससे गुर्दा, योनि, लिंग में कैंसर के सबुत भी पाएं जाते हैं।

सर्वाइकल कैंसर के लक्षण क्या होते हैं?

सर्वाइकल कैंसर (Cervical cancer) के लक्षण की बात करें तो इसके लक्षण बहुत आम होते हैं आसानी से पहचाने जा सकते हैं।

  • पीरियड्स में ज्यादा ब्लीडिंग
  • संभोग के बाद खून या दर्द होना
  • संभोग के दौरान बेचैनी या खून आना
  • वजन का कम होना
  • तेज गंध के साथ योनि से स्राव
  • भूख की कमी होना
  • रक्त के साथ योनि स्राव
  • ज्यादा थकान व कमजोरी का लगना
  • यूरिन करते वक्त दर्द महसूस होना

 प्रोस्टेट कैंसर क्या होता है, लक्षण, उपचार


सर्वाइकल कैंसर (Cervical cancer) कितना खतरनाक है?

सर्वाइकल कैंसर (Cervical cancer) महिलाओँ में होने वाला सबसे ज्यादा खतरनाक होता हैं। यदि सर्वाइकल कैंसर (Cervical cancer) की शुरुआती स्टेज में पता चल जाता हैं तो इसे ठीक किया जा सकता हैं। इसीलिए आपको जानना जरुरी हैं की सर्वाइकल कैंसर (Cervical cancer) की स्टेज कौन कौन सी होती हैं।

सर्वाइकल कैंसर (Cervical cancer) हों या कोई भी कैंसर हो जैसे ही पता चले सबसे पहले यह पता लगाना जरुरी होता हैं की आखिर आपको कैंसर कौन सी स्टेज का हैं। डॉक्टर्स कैंसर की स्टेज के अनुसार ही उपचार सुनिश्चित करते हैं।

स्टेजिंग का उद्देश्य यह आकलन करना है कि कैंसर कितना फैल गया है और क्या इसका उपचार संभव हैं।

Stages of cervical cancer सर्वाइकल कैंसर की कितनी स्टेज होती हैं ?

Cervical cancer Stage 0 : सर्वाइकल कैंसर स्टेज 0 प्रीकैंसरस कोशिकाएं मौजूद होती हैं।

स्टेज 0 में प्रीकैंसरस कोशिका कुछ असामान्यताओं वाली एक कोशिका होती है जिसका कैंसरग्रस्त होने की संभावना अधिक हो जाती है। असामान्य कोशिकाओं का असंतुलन या करे अनियंत्रित रूप से बढ़ना ही कैंसर जैसी घातक बीमारी का कारण बनता हैं। जब ये असामान्य कोशिकाएं गर्भाशय के आस पास दिखती हैं। तब सर्वाइकल कैंसर (Cervical cancer) की स्टेज 0 होती हैं। इसमें उचार संभव हैं और इसी कैंसर स्पेसलिस्ट आसानी से ठीक कर देते हैं।

Cervical cancer Stage 1 : सर्वाइकल कैंसर स्टेज 1

कैंसर कोशिकाएं सतह से गर्भाशय ग्रीवा के गहरे ऊतकों में और संभवतः गर्भाशय में और पास के लिम्फ नोड्स में विकसित हो गई हैं।

सर्वाइकल कैंसर (Cervical cancer) स्टेज 1 में असामान्य या कहे कैंसर कोशिकाएं गर्भाशय में बच्चादानी के मुँह या कहे गर्भाशय की ग्रीवा के आसपास फैल रही हैं। इसे सर्वाइकल कैंसर (Cervical cancer) की 1 स्टेज मन जाता हैं इसमें भी इलाज संभव हैं। जैसे की आप जानते हैं सर्वाइकल कैंसर (Cervical cancer) में गर्भाशय की ग्रीवा के आस पास ट्यूमर बनता हैं यदि ट्यूमर का साइज 3 mm गहरा और 7 MM से ज्यादा नहीं है इसका मतलब हैं की सर्वाइकल कैंसर (Cervical cancer) स्टेज 1 पर हैं।

Cervical cancer Stage 2 :- सर्वाइकल कैंसर स्टेज 2

सर्वाइकल कैंसर स्टेज 2 कैंसर अब गर्भाशय ग्रीवा और गर्भाशय से आगे बढ़ गया है, इसमें खतरा बढ़ गया हैं लेकिन श्रोणि की दीवारों तक या कहे योनि के निचले हिस्से तक नहीं पहुंचा। यह पास के लिम्फ नोड्स को प्रभावित कर भी सकता है और नहीं भी कर सकता । सर्वाइकल कैंसर (Cervical cancer) stage 2 में भी ट्यूमर का साइज माइक्रोस्कोप की मदद से देखा जाता हैं यदि ट्यूमर का साइज 4 MM से गहरा नहीं हैं इसलका मतलब सर्वाइकल कैंसर (Cervical cancer) अभी स्टेज 2 पर हैं।

Cervical cancer Stage 3 :- सर्वाइकल कैंसर स्टेज 3

कैंसर अब गर्भाशय ग्रीवा और गर्भाशय से आगे बढ़ गया है, और कैंसर कोशिकाएं योनि के निचले हिस्से या श्रोणि की दीवारों तक पहुंच गयी हैं, और ये असामान्य या कहे कैंसर कोशिकाएं मूत्रवाहिनी, मूत्राशय से मूत्र ले जाने वाली नलियों को अवरुद्ध उत्पन्न कर सकती हैं। यह मनुष्य के मूत्र में तकलीफ शुरू कर देता हैं दर्द, रक्त जैसी समस्या बाद जाती हैं। इसमें खतरनाक स्टेज मन जाता हैं। सर्वाइकल की इस स्टेज में आने पर मनुष्य की जान पर ख़तरा बाद जाता हैं।

Cervical cancer Stage 4 : सर्वाइकल कैंसर स्टेज 4

कैंसर अब गर्भाशय ग्रीवा और गर्भाशय से आगे बढ़ गया है कर कैंसर मूत्राशय या मलाशय को प्रभावित करता है और श्रोणि से बाहर बढ़ रहा है। यह लिम्फ नोड्स को भी प्रभावित रहा हैं। बाद में चरण 4 में, यह लिवर, हड्डियों, फेफड़ों और लिम्फ नोड्स सहित दूर के अंगों में फैल रहा हैं। ऐसी स्थिति में मनुष्य का बचना ना मुमकिन हो जाता हैं। इस स्थिति में मनुष्य 6 माह भी जीवित रहना मुश्किल होता हैं।

डायबिटीज के मरीज के लिए डाइट चार्ट

सर्वाइकल कैंसर का उपचार (cervical cancer treatment)

  • सर्जरी (Surgery)
  • रेडिएशन थेरेपी (Radiation therapy)
  • कीमोथेरेपी (Chemotherapy)

सर्जरी (Surgery)

सर्वाइकल कैंसर (Cervical cancer) का सबसे पहले उपचार की बात करें तो वह सर्जरी हैं कैंसर स्पेलिस्ट सर्जरी के माध्यम से जिस भाग में कैंसर की कोशिकाएं हैं उसे हटाना हैं ताकि वह आस पास के अन्य भाग में न फैले। यह आपके शरीर में मौजूद ट्यूमर पर निर्भर होता हैं डॉक्टर केवल गर्भाशय ग्रीवा के उस क्षेत्र को हटा सकते हैं जिसमें कैंसर कोशिकाएं हैं। कैंसर के लिए जो अधिक व्यापक है, सर्जरी में श्रोणि में गर्भाशय ग्रीवा और अन्य अंगों को निकालना शामिल हो सकता है।

रेडिएशन थेरेपी (Radiation therapy)

रेडिएशन हाई-एनर्जी एक्स-रे बीम के द्वारा कैंसर की असामान्य कोशिकाओं को मारा जाता है। इसे शरीर के बाहर एक मशीन के जरिए डिलीवर किया जा सकता है। इसे गर्भाशय या योनि में रखी धातु की ट्यूब का उपयोग करके शरीर के अंदर से भी पहुंचाया जा सकता है। इससे बालों का झड़ना और वजन का कम होना जैसी समस्या होती हैं। परन्तु इससे कैंसर से लड़ा जा सकता हैं।

कीमोथेरेपी (Chemotherapy)


कीमोथेरेपी में पूरे शरीर में कैंसर की असामान्य कोशिकाओं को मारने के लिए दवाओं या केमिकल का प्रयोग किया जाता है। डॉक्टर यह इलाज थोड़े थोड़े समय अंतराल में दिया जाता है। आपको कुछ समय के लिए कीमो थेरपी दी जाती हैं। फिर आप अपने शरीर को ठीक होने के लिए समय देने के लिए उपचार बंद कर देंगे।

सर्वाइकल कैंसर (Cervical cancer) का उपचार डॉक्टर्स सर्वाइकल कैंसर (Cervical cancer) की स्टेजेस पर निर्भर होता हैं।

सर्वाइकल कैंसर (Cervical cancer) होने पर कौन से डॉक्टर को दिखाए ?

सर्वाइकल कैंसर (Cervical cancer) होने पर आपको कैंसर स्पेलिस्ट के पास जाना चाहिए।

सर्वाइकल कैंसर (Cervical cancer) के उपचार में कितना खर्चा आता हैं ?

सर्वाइकल कैंसर (Cervical cancer) के इलाज में खर्चा सर्वाइकल कैंसर की स्टेज पर निर्भर करता है शुरुआती स्टेज पर 1 -2 लाख फिर जैसे जैसे स्टेज बाद जाती हैं खर्चा भीं बढ़ता जाता हैं।

कैंसर की कितनी स्टेज होती हैं ?

सर्वाइकल कैंसर (Cervical cancer) की 0 से 4 स्टेज होती हैं।

सर्वाइकल कैंसर का उपचार (cervical cancer treatment) कौन कौन से हैं ?

सर्जरी (Surgery)
रेडिएशन थेरेपी (Radiation therapy)
कीमोथेरेपी (Chemotherapy)

GyanAxis.com :- उम्मीद करते हैं आपको सर्वाइकल कैंसर (Cervical cancer) से जुडी सभी जानकारी मिल गयी होगी। यदि आपको हेल्थ, ब्यूटी , लाइफस्टाइल ,धर्म, एजुकेशनल जानकारी चाहिए तो ज्ञान एक्सिस पर बने रहिये।

धर्म कहानियों के लिए विजिट करे धर्मकहानी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *