Category Archives: Religious Gyan

Santan Prapti Ke Upay संतान प्राप्ति के लिए प्रदीप जी मिश्रा के चमत्कारी उपाय

Santan Prapti Ke Upay Pradeep Mishra Upay :- विवाह  के बाद संतान सुख सभी के  लिए बहुत ही महत्वपूर्ण होता  हैं। लेकिन संतान सुख सभी को मिल पता हैं कुछ कुछ दंपति जोड़े इस सुख से वंचित रह जाते हैं।  शादी के 10 से 20 साल होने के बाद भी संतान का मुँह नहीं देखने… Read More »

भारत देश के ऐसे दो हनुमान मंदिर हैं, जिनका निर्माण कार्य मुस्लिम लोगों ने कराया

भारत देश विविधता का देश है यहाँ जितने धर्म है शायद कही और देश में नहीं होंगे है, और यह भी सत्य है की अब धर्म के नाम पर लोग झगड़ने लगे हैं, लेकिन हमारा इतिहास और वर्तमान आज भी इस बात का गवाह है कि जितना हिन्दू मुस्लिम प्यार यहाँ मिलता है, वो दुनिया… Read More »

क्यों जरुरी है देवी माँ के दर्शन के बाद भैरव दर्शन

क्यों जरुरी है देवी माँ के दर्शन के बाद भैरव दर्शन जगत जननी माँ वैष्णों देवी का मंदिर या गुफा कहे कटरा से लगभग 14 किलोमीटर की दुरी पर है माँ वैष्णों देवी मंदिर की उंचाई करीब 5,200 फीट है। कहा जाता है की माँ के बुलावे के बिना कोई उनसे नहीं मिल सकता और… Read More »

सुंदर 56 नामो की स्तुति : कृष्ण, कान्हा और श्याम

दोस्तों आपने भगवान श्री कृष्ण के कई नाम सुने होंगे लेकिन क्या आपने कभी अक्षरों से नामो की स्तुति की है, अगर नहीं तो तो हम आपको इस स्तुति का लाभ देंगे। यूँ तो यशोदा नंदन के हज़ारो नाम है लेकिन हम आपको सिर्फ 56 नामो की स्तुति बताएँगे। तो बोलो कृष्ण कन्हैया लाल की… Read More »

आखिर कितने है केदारनाथ मंदिर ? पंच केदार कहा है और क्या है पंच केदार ?

चार धाम यात्रा एक ऐसी यात्रा है जो पुरे भारत को जोड़ती है, चाहे वह शैव धर्म को मानता हो या वैष्णव धर्म को लेकिन चारधाम यात्रा सभी धर्मो के सूत्र सनातन को सर्वोपरि माना जाता है और सनातन धर्म में इन धामों का इतना ही महत्व है जितना मनुष्य के लिए अपने शरीर और… Read More »

विष्णु सहस्त्रनाम Vishnu Sahasranamam (श्रीहरि विष्णु) के 1,000 नाम

विष्णु सहस्त्रनाम Vishnu Sahasranamam (श्रीहरि विष्णु) के 1,000 नाम जानिए हर शब्द का हिंदी अर्थ ॐ विश्वं विष्णु: वषट्कारो भूत-भव्य-भवत-प्रभुः । भूत-कृत भूत-भृत भावो भूतात्मा भूतभावनः ।। 1 ।। विश्वम् – – जो स्वयं में ब्रह्मांड हो जो हर जगह विद्यमान हो, जो सृष्टि के कारणभूत हैं विष्णु – – जो हर जगह विद्यमान हो,जो… Read More »

Types of Shivlinga OR Kinds of Shivlinga जानिये शिवलिंग कितने प्रकार के होते हैं

जानिये कितने प्रकार के होते हैं शिवलिंग दोस्तों, आज इस आर्टिकल में हम आपको बताएँगे कितने प्रकार के होते है शिवलिंग (Types of Shivlinga OR Kinds of Shivlinga) किसे कहते है शिवलिंग और क्या होता है इसका अर्थ। कुछ विद्वान बताते है की शिवलिंग में शिव का अर्थ परमात्मा या शुभ होता है और लिंग… Read More »

Ganesh Ji Aarti गणेशजी की 4 अद्भुत आरतियाँ

गणेश जी की आरती( Ganesh Ji Ki Aarti) :- देवों में सर्वप्रथम पूजने का विधान गौरी पुत्र श्री गणेश जी का है। गणेश जी को विघ्न विनाशक और बुद्धि देने वाला भी कहा गया है। गणेश चतुर्थी के समय गणेशोत्स्व का त्यौहार हमारे देश में बहुत ही धूम – धाम से मनाया जाता है। सभी… Read More »

Makar Sankranti 2022 :- इस मकर संक्रांति राशि के अनुसार करें वस्तुओं का दान

दोस्तों जैसे की हम जानते है की मकर संक्रांति पर दान, स्नान और पूजा का अत्यधिक महत्व होता है। वर्ष 2022 में मकर संक्रांति हर वर्ष की तरह 14 जनवरी को है। इस बार मकर संक्रांति के दिन एक शुभ संयोग बन रहा है जो पौष शुक्ल पक्ष की द्वादशी तिथि को शुक्ल और ब्रह्म… Read More »