सावन की शिवरात्रि 26 जुलाई ऑनलाइन महाभिषेक सामग्री , विधि प्रदीप जी मिश्रा के मुखारविंद से

By | July 24, 2022
Sawan Online Rudraabhishek

Sawan ki Shivratri Online Rudraabhishek Pradeep Mishra :- जैसे की आप सब जानते हैं सावन का महीना 14 जुलाई 2022 से शुरू हो गया हैं। सावन के महीने मे भगवान शंकर की पूजा अर्चना करने का विशेष महत्त्व होता हैं। वैसे तो शिवरात्रि हर महीने आती हैं परन्तु सावन की शिवरात्रि का विशेष महत्त्व होता हैं। इस दिन शिव जी का अभिषेक पूजा अर्चना की जाती हैं। प्रसिद्ध कथा प्रवक्ता प्रदीप जी मिश्रा सीहोर वाले हर वर्ष विशेष ऑनलाइन महाअभिषेक करते हैं। इस वर्ष भी ऑनलाइन सावन की शिवरात्रि पर महाभिषेक 26 जुलाई 2022 को होने जा रहा हैं। उस दिन घर पर पार्थिव शिवलिंग बना कर उसका अभिषेक , पूजा , अर्चना अपनी मनोकामना पूर्ति के लिए किया जायगा। सावन की शिवरात्रि के ऑनलाइन अभिषेक की विधि प्रदीप जी मिश्रा सीहोर वाले आस्था चेंनल व फेसबुक यूट्यूब पर लाइव बतायेगे।

सावन की शिवरात्रि कब हैं ?

When Sawan Shivratri will come ?

हर महीने की कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी को मासिक शिवरात्रि मनाई जाती हैं। सावन महीने की शिवरात्रि इस वर्ष 26 जुलाई 2022 मंगलवार के दिन हैं। मान्यताओं के सावन की शिवरात्रि के दिन पूजन , अभिषेक व रुद्राभिषेक करने से मनुष्य की हर मनोकामना पूरी हो जाती हैं। इतना ही नहीं सावन की शिवरात्रि के दिन व्रत रखने से सुख समृद्धि बनी रहती है जीवन के सारे दुख तकलीफ दूर हो जाती हैं।

सावन शिवरात्रि अभिषेक व पूजन का शुभ मुहूर्त।

Sawan Shivratri Online Rudrabhishek Date And Time

सावन की शिवरात्रि का अभिषेक व पूजन का शुभ मुहूर्त मंगलवार 26 जुलाई शाम 7 बजकर 24 मिनट से 9 बजकर 28 मिनट तक।

सावन शिवरात्रि ऑनलाइन महाभिषेक सामग्री (Sawan Shivratri Mahaabhishek Pujan Samagry )

सावन की शिवरात्रि पर महाभिषेक ,पूजन का विशेष महत्त्व होता हैं। लेकिन आज हम इस आर्टिकल में आपके लिए महाभिषेक ,पूजन की सामग्री लाये है। जो महान प्रदीप जी मिश्रा ने श्रावण महापुराण में बताई हैं।

गेहू के दानें :- 21
खड़े या अख्खे चावल के दाने :- 108
कमल गट्टा :- 5
काली मिर्ची :- 21
काली तिल :- 1 चुटकी
धतूरा :- 1
बेल पत्र :- 7
शमी पत्र :- 7
गुलाब के फूल :- 7 यदि फुल ना हो तो 7 पट्टी भी ले सकते हैं
इत्र
पंचामृत ( दही,दूध ,शहद ,शक्कर, घी )
गोल सुपारी :- 5
रोली,चावल, मोली, कपूर
दीये :- 2
जनेऊ

मिठाई
शिवलिंग के लिए मिट्टी

नोट :- यदि आपको कोई सामग्री न मिले तो उसकी जगह एक चावल समर्पित कर सकते हैं ।

जानिये शिवजी के प्रिय बेल पत्र और बिल्व वृक्ष के बारे में.

Pashupatinath Vrat पशुपतिनाथ व्रत कैसे किया जाता है और व्रत से क्या लाभ होते है ?

Mahashivratri Pradeep Mishra Upay : महाशिवरात्रि के इन उपायों से लाये खुशियाँ

Shivling Par Jal Kaise Chadhaye क्या आप जानते हैं शिवलिंग पर जल चढ़ाने का सही तरीका

जानिये शिवजी के प्रिय बेल पत्र और बिल्व वृक्ष के बारे में.

सावन की शिवरात्रि के पूजन के लिए पार्थिव शिवलिंग किसे किस रंग का पार्थिव शिवलिंग बनाना चाहिए ?

ब्राह्मण जाती के मनुष्य को सफेद रंग की मिट्टी का शिवलिंग बनाना चाहिए।
क्षत्रिय जाती के मनुष्य को लाल रंग की मिट्टी का शिवलिंग बनाना चाहिए।
वैश्य जाती के मनुष्य को पिली रंग की मिट्टी का शिवलिंग बनाना चाहिए।
क्षुद्र जाती के मनुष्य को काली रंग की मिट्टी का शिवलिंग बनाना चाहिए।

नोट :- यदि आपको किसी रंग की मिटटी न मिले तो काली रंग की मिटटी का शिवलिंग बना सकते हैं।

 

https://youtu.be/kkpXoGQ0kCo

सावन की शिवरात्रि पर ऑनलाइन रुद्राभिषेक के पार्थिव शिवलिंग को कहाँ विसर्जित कर सकते हैं।

Where we can virarjit Parthiv Shivling After Sawan Shivratri Online Rudraabhishek

सावन की शिवरात्रि पर ऑनलाइन अभिषेक व पूजन के बाद पार्थिव शिवलिंग को किसी भी तालाब,नदी में विसर्जित कर सकते हैं। जैसे की आप जानते हैं सावन महीना चल रहा हैं इस समय बारिश बहुत हैं नदी , तालाबों में पानी बहुत हैं इसीलिए पूजनीय प्रदीप जी मिश्रा ने बताया की आप पार्थव शिवलिंग को घर में एक बाल्टी या टब में पानी ले कर उसमें विसर्जित करें फिर उस पानी को किसी भी बढ़े वृक्ष में डाल दे।

Leave a Reply